'जनधन' के बाद DBT योजना भी गिनीज रिकॉर्ड में दर्ज : पीएम मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि प्रत्यक्ष लाभ अंतरण योजना दुनिया की अपने तरह की सबसे बड़ी योजना के तौर पर गिनीज वर्ल्‍ड रिकॉर्ड में दर्ज हो चुकी है।

मोदी ने अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में कहा, “मुझे यह बताते हुए काफी खुशी हो रही है कि प्रत्यक्ष लाभ अंतरण योजना हाल ही में गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स में दर्ज हो चुकी है और इसे सफलता पूर्वक लागू किया गया है।” प्रधानमंत्री ने कहा, “विभिन्न योजनाओं के तहत अभी तक 40 हजार करोड़ रुपये लाभार्थियों के खातों में जमा किए जा चुके हैं।”

dbtउन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि करीब 35-40 योजनाओं को प्रत्यक्ष लाभ अंतरण योजना से जोड़ दिया गया है।” मोदी ने कहा, “इस योजना के सहारे सब्सिडी सीधे लाभार्थियों के बैंक खातों में जमा कर दी जाती है।” उन्होंने कहा, “नवंबर तक कम से कम 15 करोड़ रसोई गैस उपभोक्ताओं को पहल योजना का लाभ पहुंचाया जा चुका है। मनरेगा में मजदूरी भुगतान को लेकर हमें काफी शिकायतें मिल रही थीं। कुछ स्थानों पर अब पैसा सीधे लाभार्थियों के खातों में जमा हो रहा है। हमने छात्रवृत्ति को भी प्रत्यक्ष लाभ अंतरण योजना से जोड़ दिया है।”

रसोई गैस सब्सिडी के लिए पहल यानी प्रत्यक्ष हस्तांतरित लाभ, तरलीकृत पेट्रोलियम गैस (एलपीजी) उपभोक्ताओं को प्रत्यक्ष लाभ अंतरण की एक योजना है।

मोदी ने कहा, “योजना दस्तावेजों में पड़ी नहीं होनी चाहिए। इसे देश के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचनी चाहिए। योजना सबसे गरीब व्यक्ति के लिए बनाई जाती है।”

 


इन ← → पर क्लिक करें

loading...
loading...
शेयर करें